मासिक करेंट अफेयर्स

02 June 2020

अमेरिका ने विश्व स्वास्थ्य संगठन के साथ सभी संबंध समाप्त किये

संयुक्त राज्य अमेरिका ने विश्व स्वास्थ्य संगठन के साथ अपने संबंधों को आधिकारिक रूप से समाप्त कर दिया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने इस 29 मई 2020 को इस बारे में घोषणा की थी. अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के लिए निर्धारित इस धन को अमेरिका दुनिया भर की अन्य तत्कालिक आवश्कताओं के साथ वैश्विक सार्वजनिक स्वास्थ्य संबंधी जरूरतों को पूरा करने के लिए फिर से आवंटित करेगा. 
अमेरिकी राष्ट्रपति ने एक लाइव भाषण में चीन पर आरोप लगाया कि, अमेरिका के लगभग 450 मिलियन डालर की तुलना में, चीन द्वारा प्रत्येक वर्ष WHO को केवल 40 मिलियन अमेरिकी डॉलर का भुगतान करने के बावजूद चीन का इस संगठन पर पूरा नियंत्रण है. ट्रम्प ने कहा कि अमेरिका विश्व स्वास्थ्य संगठन के साथ अपने संबंधों को समाप्त कर देगा क्योंकि वे अमेरिका के अनुरोध पर कार्य करने में विफल रहे हैं और इस संगठन में बहुत सुधार होने चाहिए.

अमेरिका ने चीन से कुछ विदेशी नागरिकों के प्रवेश पर रोक लगाई और हांगकांग के लिए यात्रा संबंधी सलाह में संशोधन किया. अमेरिकी राष्ट्रपति ने घोषणा की जिसमें चीन के कुछ ऐसे विदेशी नागरिकों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है जिन्हें अमेरिका के महत्वपूर्ण विश्वविद्यालय अनुसंधान को बेहतर ढंग से सुरक्षित करने के लिए संभावित सुरक्षा जोखिमों के तौर पर पहचाना गया है. ट्रम्प ने दावा किया कि कई वर्षों तक चीन ने उनके औद्योगिक रहस्यों को चुराने के लिए अवैध जासूसी की है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने यह भी घोषणा की है कि, चीनी राज्य सुरक्षा तंत्र द्वारा निगरानी और सजा के बढ़ते खतरे के परिणामस्वरूप अमेरिकी राज्य विभाग हांगकांग के लिए अपनी यात्रा संबंधी सलाह को संशोधित करेगा. उन्होंने कहा कि हांगकांग के खिलाफ चीन का यह कदम इस शहर की दीर्घकालिक स्थिति को बदलने के प्रयासों की श्रृंखला में नई कड़ी है.

उन्होंने कहा कि यह हांगकांग के लोगों और चीन के लोगों के साथ-साथ पूरी दुनिया के लिए भी एक त्रासदी है. उन्होंने दावा किया कि चीन ने एक देश दो प्रणाली के अपने वादे को एक देश, एक प्रणाली में बदल दिया है. ट्रम्प ने आगे यह कहा कि, इसलिए अमेरिका हांगकांग को अलग और विशेष स्थिति देने वाली नीतिगत छूटों को समाप्त करने की प्रक्रिया शुरू करने की योजना बना रहा है. ट्रम्प ने यह भी दावा किया है कि चीन के वुहान वायरस के कवर-अप से यह बीमारी दुनिया भर में एक वैश्विक महामारी के तौर पर फ़ैल गई और जिसने वैश्विक स्तर पर एक मिलियन से अधिक लोगों की जान ले ली है. उन्होंने यह भी कहा कि चीनी अधिकारियों ने WHO को इस बारे में सही समय पर रिपोर्ट करने के अपने रिपोर्टिंग दायित्वों की अनदेखी की है.

No comments:

Post a comment