मासिक करेंट अफेयर्स

07 September 2020

मशहूर फिल्म निर्माता-निर्देशक जॉनी बख्शी का निधन

मशहूर फिल्म निर्माता जॉनी बक्शी का 05 सितम्बर 2020 को मुंबई में निधन हो गया. वे 83 साल के थे. बता दें कि उनकी मृत्यु दिल का दौरा पड़ने की वजह से हुई है. जॉनी बख्शी को सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद 04 सितम्बर 2020 को सुबह जुहू के आरोग्य निधि अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 
बॉलीवुड सितारों ने जॉनी बख्शी की मौत की खबर सुनने के बाद उन्हें अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की. अनुपम खेर ने कहा कि जॉनी बख्शी की मौत की खबर सुनकर काफी दुखी हूं. मुंबई के शुरूआती दिनों में वो मेरी लाइफ में काफी अहम किरदार थे. उनकी हंसी आसपास रहने वाले लोगों को भी खुश कर देती थी.

बॉलीवुड और टीवी इंडस्ट्री के लिए साल 2020 काफी बुरा जा रहा है. इससे पहले ऋषि कपूर, इरफान खान और सुशांत सिंह राजपूत की मौत ने सबको झंकझोर दिया. इसके बाद कई फिल्म निर्माता और निर्देशक भी इस दुनिया को अलविदा कह गए. मशहूर फिल्म निर्माता और निर्देशक जॉनी बख्शी के निधन पर बॉलीवुड कलाकारों ने दुख व्यक्त किया है.

जॉनी बख्शी ने 'डाकु और पुलिस' और 'खुदाई' जैसी फिल्मों के निर्देशन के लिए जाना जाता है. वहीं वह मंज़िलें और भी हैं, रावण और फ़िर तेरी कहानी याद आई जैसी कई फिल्मों का निर्माण भी कर चुके है. उन्होंने बॉलीवुड के कई दिग्गज कलाकारों के साथ काम किया था. जॉनी बख्शी ने सिर्फ एक बेहतरीन निर्देशक थे बल्कि एक निर्माता भी थे. चार दशकों के अपने करियर के दौरान जॉनी बख्शी ने ज्यादातर निर्माता के रूप में काम किया. उन्होंने मंज़िलें और भी हैं (1974), रावण (1984) और फिर तेरी कहानी याद आई (1993) जैसी फिल्मों का निर्माण किया है. उन्होंने राजेश खन्ना की दो फिल्मों डाकु और पुलिस (1992) और खुदाई (1994) का निर्देशन भी किया है. 

जॉनी बख्शी ने बॉलिवुड के तमाम बड़े कलाकारों के साथ काम किया है. जॉनी बख्शी को सिनेमा से काफी प्यार था, यही वजह थी जो उन्होंने हॉलिवुड स्टार मार्लोन ब्रैंडो से प्रेरित होकर अपने बेटे का नाम ब्रैंडो रखा था. जॉनी बख्शी ने कई वर्षों तक राज खोसला के सहायक के रूप में काम किया. जॉनी बख्शी इंडियन मोशन पिक्चर्स प्रड्यूसर्स असोसिएशन (आईएमपीपीए) का भी हिस्सा थे. वे इस असोसिएशन के सक्रिय सदस्यों में से एक थे. जॉनी बख्शी के परिवार में अब बेटे ब्रैंडो, केनेडी, ब्रैडमैन और बेटी प्रिया हैं. 

No comments:

Post a comment