मासिक करेंट अफेयर्स

07 September 2020

JEE Main के बाद NTA ने मेडिकल पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए NEET की तैयारी तेज की


इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए जेईई-मेंस कराने के बाद राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) ने चिकित्सा के स्नातक पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए 13 सितंबर को होने वाली परीक्षा के लिए तैयारियां तेज कर दी हैं जिसमें 15 लाख से अधिक विद्यार्थियों ने पंजीकरण कराया है. इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई-मेंस) एक सितंबर को शुरू हुई थी और रविवार को यह संपन्न हो गई. कोविड-19 महामारी के मद्देनजर दो बार स्थगित करने के बाद यह अहम परीक्षा सितंबर में कराई जा रही है. जेईई-मेंस में कंप्यूटर आधारित परीक्षा के विपरीत पांरपरिक रूप से कागज और कलम से होने वाली नीट के लिए देशभर में 15.97 लाख विद्यार्थियों ने पंजीकरण कराया है. 

एनटीए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा की सामाजिक दूरी का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए एनटीए ने राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) के लिए परीक्षा केंद्रों की संख्या 2,546 से बढ़ाकर 3,843 कर दी है. वहीं एक कक्षा में पूर्व में 24 के स्थान पर केवल 12 विद्यार्थियों के ही बैठने की व्यवस्था की जाएगी. सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने के लिए विद्यार्थियों को परीक्षा कक्ष में अलग-अलग समय पर प्रवेश कराया जाएगा और इसी प्रकार निकासी होगी. परीक्षा केंद्रों के बाहर इंतजार के दौरान विद्यार्थियों को समाजिक दूरी के साथ खड़े होने के लिए पर्याप्त व्यवस्था की गई है. विद्यार्थियों के लिए परामर्श जारी किया गया है जिसमें सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने के लिए क्या करें और क्या नहीं करें की जानकारी दी गई है.

उन्हहोंने कहा की हमने राज्य सरकारों को स्थानीय स्तर पर विद्यार्थियों की आवाजाही में मदद करने के लिए पत्र लिखा है ताकि वे समय से परीक्षा केंद्र पहुंच सकें. परीक्षा केंद्र के प्रवेश द्वार पर और कक्ष में सेनिटाइजर की व्यवस्था, बार कोड के जरिए प्रवेश पत्र की जांच , परीक्षा केंद्रों की संख्या में वृद्धि, एक-एक सीट छोड़कर बैठने की व्यवस्था, एक कमरे में कम छात्रों के बैठने की सुविधा और अलग-अलग समय पर प्रवेश और निकासी जैसे कुछ उपाय हैं जो एनटीए ने छात्रों की सुरक्षा के लिए किए हैं. परीक्षा केंद्र पर एनटीए द्वारा छात्रों को मास्क मुहैया कराया जाएगा. प्रतेक उम्मीदवार को तीन परत वाला मास्क परीक्षा केंद्र में प्रवेश करने के वक्त दिया जाएगा और उम्मीद की जाती है कि उम्मीदवार वही मास्क पहनकर परीक्षा दे ताकि परीक्षा के दौरान किसी अनैतिक तरीके के इस्तेमाल को रोका जा सके.

इस बीच, ओडिशा, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ सरकार ने विद्यार्थियों के परिवहन की व्यवस्था करने का भरोसा दिया है. वहीं, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) के पूर्व छात्र और मौजूदा छात्रों ने जरूरतमंद उम्मीदवारों को परीक्षा केंद्र पहुंचने में मदद करने के लिए पोर्टल लॉन्च किया है. कोलकाता मेट्रो ने 13 सितंबर को नीट परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों को परीक्षा केंद्र पहुंचने में मदद करने के लिए विशेष सेवा का परिचालन करने की योजना बनाई है. मेट्रो रेल के महाप्रबंधक मनोज जोशी ने कहा की प्रवेश पत्र के आधार पर उम्मीदवारों को उनके अभिभावकों के साथ मेट्रो ट्रेन में सवार होने की अनुमति दी जाएगी.

No comments:

Post a comment