मासिक करेंट अफेयर्स

22 January 2021

इंडिया इनोवेशन इंडेक्स 2020 में राज्यों में कर्नाटक और केंद्र शासित प्रदेशों में दिल्ली ने पाया प्रथम स्थान

20 जनवरी, 2021 को नीति आयोग द्वारा जारी इंडिया इनोवेशन इंडेक्स 2020 में देश के सबसे नवाचारी/ इनोवेटिव प्रमुख राज्य के रूप में 
कर्नाटक ने अपना स्थान बरकरार रखा है. इस इंडेक्स में कर्नाटक ने 42.5 का स्कोर हासिल किया, उसके बाद महाराष्ट्र 38 अंक के साथ दूसरे स्थान पर रहा और तमिलनाडु 37.91 अंक लेकर तीसरे स्थान पर रहा. इस इंडेक्स में बिहार 14.5 अंक लेकर अंतिम स्थान पर रहा. उत्तर-पूर्व/पहाड़ी राज्यों में हिमाचल प्रदेश 25.06 के स्कोर के साथ शीर्ष पर है, उसके बाद उत्तराखंड और मणिपुर है, जबकि मेघालय को 12.15 स्कोर के साथ अंतिम स्थान दिया गया है. कुल 46.60 स्कोर के साथ केंद्र शासित राज्यों में दिल्ली ने प्रथम स्थान हासिल किया, इसके बाद चंडीगढ़ और दमन और दीव थे और इस इंडेक्स में 11.71 स्कोर के साथ लक्षद्वीप अंतिम स्थान पर रहां.

नीति आयोग के वाइस चेयरमैन डॉ. राजीव कुमार द्वारा इंडिया इनोवेशन इंडेक्स जारी किया गया. इस इंडेक्स का पहला एडिशन अक्टूबर, 2019 में जारी किया गया था. इस इंडेक्स के दूसरे एडिशन का विमोचन देश को एक नवाचार-संचालित अर्थव्यवस्था में बदलने के प्रति केंद्र की सतत प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है. इंडिया इनोवेशन इंडेक्स 2020 देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की सहायता करने वाले नवाचार/ इनोवेशन के लिए, सापेक्ष प्रदर्शन के आधार पर उनकी रैंकिंग करता है. यह इंडेक्स देश के सभी राज्यों और प्रदेशों की ताकत और कमजोरियों को उजागर करके, उनकी नवाचार नीतियों को बेहतर बनाने के लिए उन्हें सशक्त बनाएगा. रैंकिंग को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि राज्य नवाचार में सबक लेने में सक्षम बन सकें. इस इंडेक्स के माध्यम से राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के बीच स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को प्रोत्साहित करने की उम्मीद है, जिससे प्रतिस्पर्धी संघवाद को बढ़ावा मिलेगा.

यह इंडेक्स/ सूचकांक भारतीय राज्यों की नवाचार क्षमता और प्रदर्शन का आकलन करने के लिए कार्यप्रणाली प्रदान करता है. इस इंडेक्स के तहत, राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को उनके प्रदर्शन की तुलना करने के लिए 17 प्रमुख राज्यों, 10 उत्तर-पूर्व और पहाड़ी राज्यों और 9 शहरी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित किया गया है. राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को दो व्यापक श्रेणियों में स्थान दिया गया है: उत्पादन और शासन. यह इंडेक्स रुझानों को दर्शाता है और विभिन्न कारकों का विस्तृत विश्लेषण प्रदान करता है जो विभिन्न स्तरों-राष्ट्रीय, राज्य और जिला स्तरों पर नवाचार का संचालन करते हैं. इंडिया इनोवेशन इंडेक्स 2020 के ढांचे में 36 संकेतक शामिल हैं जिनमें हार्ड डाटा (32 संकेतक) और चार समग्र संकेतक शामिल हैं. इस सूचकांक ढांचे को सूचकांक निर्माण और नवाचार के क्षेत्र के विशेषज्ञों के साथ चर्चा के बाद आकार दिया गया था. 

No comments:

Post a comment