मासिक करेंट अफेयर्स

11 March 2021

देश के दो पासपोर्ट सेवा केंद्रों में सभी कर्मचारी होंगी महिलाएं

विदेश राज्यमंत्री वी. मुरलीधरन ने 08 मार्च 2021 को कहा कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में दो पासपोर्ट सेवा केंद्रों को ऐसे केंद्र के तौर पर बदला जाएगा जहां सभी कर्मी महिलाएं होंगी. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पुरुषों और महिलाओं के बीच संतुलन बनाने हेतु सरकार लगातार काम कर रही है. 
विदेश मंत्रालय ने कहा है कि सभी महिला कर्मचारी वाला एक केंद्र नई दिल्ली के आरके पुरम में और दूसरा केंद्र केरल के कोचीन में त्रिपुनितुरा में होगा. पासपोर्ट सेवा कार्यक्रम सरकार के सबसे सफल कार्यक्रमों में से एक है. इसके जरिये भारत के नागरिकों और देश के बाहर रह रहे भारतीय नागरिकों को पासपोर्ट संबंधी सेवाएं दी जाती हैं.

मंत्रालय ने कहा है कि यह कार्यक्रम डिजिटल भारत के दृष्टिकोण के अनुरूप है. इसका मकसद सभी हितधारकों के लिए एक डिजिटल व्यवस्था तैयार करना है जहां नागरिकों को पासपोर्ट संबंधी सेवाएं घर पर मिले. मंत्रालय ने पासपोर्ट सेवा आपूर्ति में गुणात्मक और गुणवत्तापूर्ण बदलाव लाने के लिए कई कदम उठाए हैं. मौजूदा 36 पासपोर्ट कार्यालयों के अतिरिक्त 93 पासपोर्ट केंद्र और 426 डाकघर पासपोर्ट सेवा केंद्र बनाए गए हैं. इसके अतिरिक्त विदेश में 190 भारतीय मिशन के लिए भी कार्यक्रम को विस्तारित किया गया.

मंत्रालय द्वारा उठाए गए कदमों से नागरिकों को पारदर्शी, विश्वसनीय तरीके से समय पर पासपोर्ट सेवा की आपूर्ति में सहायता मिली. इसके अतिरिक्त मंत्रालय ने पासपोर्ट सेवा कार्यक्रम के अंतर्गत महिलाओं को सशक्त बनाने के कदम भी उठाए हैं. कार्यक्रम के तहत कुल 1670 महिलाओं की तैनाती की गयी. कार्यक्रम के जरिए अब तक 2.76 करोड़ से ज्यादा आवेदकों को पासपोर्ट जारी किए गए. पिछले तीन साल में महिला आवेदकों को 1.03 करोड़ पासपोर्ट जारी किए गए जो कि कुल आवेदकों में 35 प्रतिशत हैं.

No comments:

Post a comment