मासिक करेंट अफेयर्स

20 May 2021

बिहार सरकार ने होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना मरीजों की बेहतर निगरानी के लिए ट्रैकिंग कोविड एप लांच किया

बिहार सरकार ने होम आइसोलेशन (घर) में रह रहे कोरोना मरीजों की अच्छी तरह देखभाल व उनकी बेहतर निगरानी के लिए होम आइसोलेशन ट्रैकिंग कोविड (एचआईटी) ऐप लांच किया. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ऐप लांचिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे होम आइसोलेशन के मरीजों की देखभाल में सहूलियत होगी. ऐप लांच होने पर उन्होंने प्रसन्नता भी जाहिर की. 
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमित बड़ी संख्या में घर पर आइसोलेशन में रह रहे हैं. इनके ऑक्सीजन के स्तर की निरंतर मॉनिटरिंग की आवश्यकता है, क्योंकि इस बार के संक्रमण में मरीजों का ऑक्सीजन स्तर गिरने के कई मामले सामने आ रहे हैं. इससे उनकी स्थिति ज्यादा गंभीर हो जा रही है. ऐप के माध्यम से उनकी अच्छी देखभाल में मदद मिलेगी.

स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा मरीजों के घर पर जाकर प्रतिदिन उनके शरीर का तापमान और ऑक्सीजन स्तर की जांच की जाएगी, जिसके आधार पर उनका उचित इलाज समय पर हो सकेगा. जिनका ऑक्सीजन स्तर 94 से कम पाया जाएगा, उन्हें आवश्यकता पड़ने पर डेडिकेटेड हेल्थ सेंटर में सरकार भर्ती कराकर उनका इलाज कराएगी. उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य परामर्शियों को प्रशिक्षित किया गया है, उनकी भी सेवा इस काम में ली जाएगी. 

इस दौरान सूचना एवं प्रावैधिकी विभाग के सचिव संतोष कुमार मल्ल ने ऐप के बारे में जानकारी दी. उन्होंने कहा कि यह मोबाइल ऐप स्वास्थ्य विभाग के मार्गदर्शन में कोरोना महामारी से बचाव के लिए बेल्ट्रॉन द्वारा विकसित किया गया है. इस ऐप के माध्यम से घर पर आइसोलेशन में रह रहे मरीजों की मॉनिटरिंग की जाएगी. स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के द्वारा मरीजों की जांच के बाद उसकी जानकारी इस ऐप में अपलोड की जाएगी. इसकी मॉनिटरिंग जिलास्तर पर भी की जाएगी. पायलट प्रोजेक्ट के रूप में इस ऐप का उपयोग सुपौल, गोपालगंज, औरंगाबाद, नालंदा तथा भागलपुर में सफलतापूर्वक किया गया है.

No comments:

Post a Comment