मासिक करेंट अफेयर्स

10 October 2017

नोबेल पुरस्कार 2017: अमेरिकी प्रोफेसर रिचर्ड थेलर को मिला अर्थशास्त्र का नोबेल

नोबेल पुरस्कार 2017 के तहत 9 अक्तूबर को अर्थशास्त्र के नोबेल का ऐलान कर दिया गया. इस बार यह पुरस्कार अमेरिकी अर्थशास्त्री रिचर्ड एच थेलर को मिला है. रिचर्ड को यह पुरस्कार बिहेवियरल इकोनॉमिक्स में उनके योगदान के लिए दिया गया है. सोमवार को रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज की ओर से इस बारे में ऐलान किया गया. स्वीडन की विज्ञान अकादमी के सचिव गोएरन हैंसन ने कहा कि थेलर को उनकी ‘अर्थशास्त्र के मनोविज्ञान की समझने’ पर अध्ययन के लिए 90 लाख क्रोनोर (11 लाख डॉलर) की राशि पुरस्कार स्वरुप दी जाएगी. अर्थशास्त्र के नोबेल को अल्फ्रेड नोबेल की याद में शुरू किया गया था.

नोबेल पुरस्कार के निर्णायक मंडल ने एक बयान में कहा कि थेलर का अध्ययन बताता है कि किस प्रकार सीमित तर्कसंगता, सामाजिक वरीयता और स्व-नियंत्रण की कमी जैसे मानवीय लक्षण किसी व्यक्ति के निर्णय को प्रक्रियागत तौर पर प्रभावित करते हैं और इससे बाजार के लक्षण पर भी प्रभाव पड़ता है. अकादमी ने थेलर का परिचय देने वाले अपने प्रपत्र में कहा है कि 72 वर्षीय थेलर व्यवहारिक अर्थशास्त्र का अध्ययन करने वाले अग्रणी अर्थशास्त्री है.। यह शोध का एक ऐसा क्षेत्र है जहां आर्थिक निर्णय निर्माण की प्रक्रिया के दौरान मनोवैज्ञानिक अनुसंधानों का अनुपालन करने का अध्ययन किया जाता है. इससे व्यक्तियों के आर्थिक निर्णय लेते समय सोच और व्यवहार का अधिक वास्तविक आकलन करने में मदद मिलती है.

थालर शिकागो विश्वविद्यालय में बिहेवियरल साइंस और अर्थशास्त्र के प्रोफेसर हैं. थालर का जन्म न्यू जर्सी में हुआ था। उन्हें साल 1987 में केस वेस्टर्न रिजर्व यूनिवर्सिटी से बैचलर की डिग्री मिली. इसके बाद वह रोशेस्टर यूनिवर्सिटी गए और यहां पर उन्हें साल 1970 में मास्टर डिग्री मिली और फिर साल 1974 में यहीं से उन्होंने अपनी पीएचडी की डिग्री हासिल की. इसके बाद साल 1995 में उन्होंने शिकागो विश्वविद्यालय के शिकागो बूथ स्कूल में बतौर प्रोफेसर अपनी सेवाएं देनी शुरू कीं.

No comments:

Post a Comment