मासिक करेंट अफेयर्स

14 August 2018

रेल मंत्रालय ने आरपीएफ भर्ती में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण देने की घोषणा की

बिहार के एक दिवसीय दौरे पर पटना पहुंचे रेल मंत्री पीयूष गोयल ने 12 अगस्त 2018 को रेलवे की कई परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन किया. इस अवसर पर उन्होंने रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के जवानों की होने वाली भर्ती में 50 प्रतिशत सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित करने की घोषणा की. उन्होंने कहा की बिहार में जिस तेज गति से विकास हो रहा है इसमें रेलवे की योजना भी विकास को रफ्तार देगी. भारतीय रेलवे ने महिलाओं के रोजगार को बढ़ाने के लिए यह महत्वपूर्ण कदम उठाया है. उन्होंने कहा की पटना घाट से पटना साहिब की जमीन भी रलवे जल्द ही बिहार सरकार को दे देगी. कोसी ब्रिज का काम भी 10 महीने के भीतर पूरा कर लिया जाएगा. डालमिया नगर में 600 करोड़ रुपये का पीओएच बनाने का काम जल्द शुरू होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार द्वारा 2014-19 में लगभग 15 हजार करोड़ का निवेश रेलवे में होने वाला है.

रेल मंत्री ने कहा की रेलवे ने आगामी आरपीएफ भर्ती प्रक्रिया में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण प्रदान करने का फैसला किया है, जिसमें लगभग 9500-10000 आरपीएफ जवानों की भर्ती होनी हैं. कुल मिलाकर, आरपीएफ में लगभग 10,000 नौकरियां लाई जाएंगी. इसके लिए भर्ती जल्द ही शुरू होने की उम्मीद है. पारदर्शिता बनाए रखने के लिए, भर्ती प्रक्रिया पूरी तरह से कंप्यूटर आधारित परीक्षा होगी, कोई साक्षात्कार नहीं होगा. इसके अलावा, रेल मंत्रालय ने 6000 स्टेशनों और महत्वपूर्ण ट्रेनों में सीसीटीवी कैमरे स्थापित करने का फैसला किया है.

रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ): रेलवे सुरक्षा बल देश के सर्वोत्तम सुरक्षा बलों में से एक है. यह एक ऐसा सुरक्षा बल है जो देश में रेल यात्रियों की सुरक्षा, भारतीय रेलवे की सम्पत्तियों की रक्षा तथा किन्हीं देश विरोधी गतिविधियों में रेलवे सुविधाओं के इस्तेमाल की निगरानी रखना है. यह एक केंद्रीय सैन्य सुरक्षा बल है जो पैरा मिलिट्री फोर्स के रूप में भी जाना जाता है जिसे दोषियों को गिरफ्तार करने, जाँच पड़ताल करने एवं अपराधियों के विरूद्ध मुकदमा चलाने का अधिकार होता है. रेलवे सुरक्षा बलों की संख्या 65000 के लगभग है. रेलवे सुरक्षा बल का मुखिया डाइरेक्टर जनरल होता है जो कि प्रायः भारतीय पुलिस सेवा का अधिकारी होते हैं. रेलवे सुरक्षा बल रेल यात्रियों,रेलवे सम्पत्तियों की सुरक्षा के साथ साथ रेलवे क्षेत्र में अनाथ बच्चों को भी सहायता प्रदान करता है तथा उनके पुनर्स्थापना की भी व्यवस्था करता है.

No comments:

Post a Comment