मासिक करेंट अफेयर्स

11 August 2018

ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स की सूची में भारत 57वें स्थान पर

ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स (जीआईआई) की सूची में भारत 57वें नंबर पर है, पिछले साल भारत 60वें नंबर पर था. भारत की स्थिति में लगातार सुधार आ रहा है. वर्ष 2015 में यह 81वें स्थान पर था. चीन विश्व के शीर्ष 20 सर्वाधिक नवोन्मेषी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल हो गया है. यह सालाना रैकिंग कॉर्नेल विश्वविद्यालय, आईएनएसईएडी और विश्व बौद्धिक संपदा संगठन (डब्ल्यूआईपीओ) द्वारा 10 जुलाई 2018 को प्रकाशित की गई. स्विटजरलैंड ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स (जीआईआई) में शीर्ष स्थान पर बरकरार है. मध्य और दक्षिण एशिया क्षेत्र में भारत शीर्ष पर है. जबकि दुनिया भर की रैकिंग में भारत 57वें स्थान पर है.

भारत ने कई महत्वपूर्ण सूचकांकों की रैंकिंग में सुधार किया है. उत्पादकता वृद्धि और सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी और सेवाओं के निर्यात क्षेत्र में भी उसने रैकिंग सुधारी है. पिछले साल (वर्ष 2017) की रैकिंग में भारत और तीन स्थान नीचे 60 पर था. मध्य और दक्षिण एशिया में भारत के बाद दूसरे स्थान पर ईरान और तीसरे स्थान पर कजाकिस्तान है. जीआईआई 2018 के शीर्ष 10 देशों में स्विटजरलैंड के बाद नीदरलैंड, स्वीडन, ब्रिटेन, सिंगापुर, अमेरिका, फिनलैंड, डेनमार्क, जर्मनी और आयरलैंड शामिल हैं.

ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स में शीर्ष 5 देश:
1. स्विट्जरलैंड,
2. नीदरलैंड,
3. स्वीडन.
4. यूनाइटेड किंगडम
5. सिंगापुर

ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स (जीआईआई): जीआईआई में 80 संकेतकों पर 126 अर्थव्यवस्थाओं की रैंकिंग की गई, जिसमें बौद्धिक संपदा फाइलिंग दर से लेकर मोबाइल एप्लिकेशन निर्माण, शिक्षा खर्च और वैज्ञानिक और तकनीकी प्रकाशनों तक को शामिल किया गया. चीन इस साल (वर्ष 2018) इस रैकिंग में 17वें स्थान पर रहा, जोकि उसकी अर्थव्यवस्था की सफलता दर्शाती है. वहां की सरकार की नीतियों में शोध और विकास पर विशेष जोर दिया जा रहा है. जीआईआई इंडेक्स के अनुसार मध्य और दक्षिण एशिया क्षेत्र में भारत सबसे इनोवेटिव देश है.

No comments:

Post a Comment