मासिक करेंट अफेयर्स

09 August 2018

अगस्त क्रांति दिवस

भारत में प्रत्येक वर्ष 09 अगस्त को अगस्त क्रांति दिवस मनाया जाता है. इस अवसर पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं तथा स्वाधीनता संग्राम की आखिरी लड़ाई के रूप में प्रसिद्ध भारत छोड़ो आंदोलन को याद किया जाता है. इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 1942 के भारत छोड़ो आंदोलन में हिस्सा लेने वालों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि उस आंदोलन के जरिए महात्मा गांधी साम्राज्यवादी शासन की नींव हिला सके और इससे भारत की आजादी की लड़ाई को और बल मिला था. अगस्त क्रांति आंदोलन की शुरूआत 9 अगस्त, 1942 को हुई थी,
इसीलिए भारतीय इतिहास में 9 अगस्त के दिन को अगस्त क्रांति दिवस के रूप में जाना जाता है. मुम्बई के जिस पार्क से यह आंदोलन शुरू हुआ, उसे अगस्त क्रांति मैदान नाम दिया गया है. 

द्वितीय विश्वायुद्ध में समर्थन लेने के बाद भी जब अंग्रेज भारत छोड़ने को तैयार नहीं हुए तो बापू ने भारत छोड़ो आंदोलन आरंभ किया. अंग्रेजों को देश से भगाने के लिए भारतीय राष्ट्री य कांग्रेस ने 4 जुलाई, 1942 को एक प्रस्ता्व पारित किया था. पार्टी नेता सी राजगोपालाचारी ने पार्टी छोड़ दी लेकिन नेहरू और मौलाना आजाद ने गांधी के आह्वान पर अंत तक इसके समर्थन का फैसला किया. आठ अगस्त 1942 को अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के बम्बई सत्र में भारत छोड़ो आंदोलन का प्रस्ताव पारित किया गया. गाँधीजी को पुणे के आगा खान पैलेस में कैद कर दिया गया. लगभग सभी नेता गिरफ्तार कर लिए गए लेकिन युवा नेत्री अरुणा आसफ अली हाथ नहीं आईं और उन्होंने 09 अगस्त 1942 को मुम्बई के ग्वालिया टैंक मैदान में तिरंगा फहराकर गाँधीजी के भारत छोड़ो आंदोलन का शंखनाद कर दिया. महात्मा गांधी ने भारत छोड़ो आंदोलन की शुरुआत के साथ “करो या मरो” का नारा भी दिया था.

No comments:

Post a Comment