मासिक करेंट अफेयर्स

21 August 2018

आदिल हुसैन ने नॉर्वे का प्रतिष्ठित फिल्म पुरस्कार जीता

नॉर्वे के राष्ट्तीय फिल्म पुरस्कारों की हाल ही में घोषणा की गई है जिसमें भारतीय मूल के आदिल हुसैन ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार जीता है. फिल्म 'वॉट विल पीपल से' के लिए नार्वे का राष्ट्रीय पुरस्कार जीतने वाले अभिनेता आदिल हुसैन ने इस पुरस्कार को असम के गोलपारा को समर्पित किया है. आदिल हुसैन ने इराम हैक द्वारा निर्देशित 'वॉट विल पीपल से' के लिए यह पुरस्कार जीता है. आदिल ने ट्विटर पर कहा कि यह पुरस्कार उनके लिए है जो सीमाओं को तोड़ने में विश्वास रखते हैं. फिल्म 'वॉट विल पीपल से' की पृष्ठभूमि पाकिस्तान और नार्वे की है जिसमें दिखाया जाता है कि कैसे एक पाकिस्तानी प्रवासी परिवार अपनी किशोरी बेटी का नार्वे के एक लड़के के साथ प्रेम संबंध का सामना करते हैं. इस फिल्म को सर्वश्रेष्ठ फिल्म, निर्देशन, और स्क्रिप्ट की श्रेणी सहित कुल तीन पुरस्कार मिले हैं.

आदिल हुसैन का जन्म 05 अक्टूबर 1963 को असम में हुआ. वे भारत के नाटक, टेलीविजन और फ़िल्म अभिनेता हैं जो हिन्दी सिनेमा की मुख्यधारा के साथ-साथ स्थानीय सिनेमा में भी काम करते हैं. उन्होंने अन्तर्राष्ट्रीय फ़िल्मों जैसे ‘द रिलक्टेंट फंडामेंटलिस्ट’ और ‘लाइफ ऑफ़ पाई’ (दोनों 2012 में जारी हुई) तथा फिल्म 'वॉट विल पीपल से' में काम किया है. उन्होंने वर्ष 2004 में बंगाली फिल्म ‘इति श्रीकांता’ से एक्टिंग की शुरुआत की थी. इसके अतिरिक्त उन्होंने इंग्लिश विन्गलिश, कांची, मैं और चार्ल्स आदि में भी अभिनय किया. आदिल हुसैन ने वर्ष 2016 में आई ‘मुक्ति भवन’ में यादगार भूमिका निभाई थी.

No comments:

Post a Comment