22 March 2021

भारत-अमेरिका ने शुरू की आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पहल

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग ने 18 मार्च, 2021 को यह सूचित किया कि, इंडो-यूएस साइंस एंड टेक्नोलॉजी फोरम - IUSSTF ने यूएस इंडिया आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इनिशिएटिव लॉन्च किया है. यह ऐसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में AI सहयोग पर ध्यान केंद्रित करेगा जो दोनों देशों की प्राथमिकताएं हैं. 
डीएसटी के सचिव आशुतोष शर्मा ने इस लॉन्च समारोह में बोलते हुए, दोनों देशों की समस्याओं को हल करने के साथ-साथ विकास के लिए विभिन्न बाधाओं को दूर करने के लिए भारत और अमेरिका के बीच विज्ञान और प्रौद्योगिकी संबंधों को बढ़ाने की आवश्यकता पर जोर दिया.

दूसरी ओर, यूएस ब्यूरो ऑफ़ ओसेन्स और अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरण और वैज्ञानिक मामले के कार्यवाहक उप सहायक सचिव, जॉनाथन मार्गोलिस ने यह कहा कि, दोनों देशों के बीच खुलेपन, पारस्परिकता और पारदर्शिता पर यह सहयोग आधारित है. यूएस इंडिया आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इनिशिएटिव - USIAI एआई अनुसंधान और विकास सहयोग के लिए चुनौतियों, अवसरों, बाधाओं पर चर्चा करने के लिए एक मंच के तौर पर कार्य करेगा..

यह प्लेटफॉर्म एआई इनोवेशन को भी सक्षम करेगा, एआई वर्कफोर्स को विकसित करने के लिए विचारों को साझा करने में मदद करेगा, और साझेदारी को उत्प्रेरित करने के लिए प्रक्रियायों और मोड्स की भी सिफारिश करेगा. यह पहल प्रमुख हितधारकों को अपने अनुभव साझा करने, नए अवसरों और R&D क्षेत्रों की पहचान करने का अवसर प्रदान करेगी जोकि सहक्रियात्मक गतिविधियों से लाभान्वित होंगे. यह दोनों देशों को उभरते हुए AI परिदृश्य पर चर्चा करने के साथ-साथ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस वर्कफोर्स विकसित करने की चुनौतियों का समाधान करने के लिए एक मंच प्रदान करेगा.

यह महत्वाकांक्षी पहल अमेरिका और भारत के प्रमुख हितधारकों को एक साथ लाने के लिए IUSSTF की क्षमता का लाभ उठाएगी ताकि तालमेल बनाए जा सकें और प्रौद्योगिकी, विज्ञान और समाज के इंटरफेस पर अवसरों और चुनौतियों का समाधान किया जा सके. AI में प्रौद्योगिकी को 25 प्रौद्योगिकी केंद्रों के नेटवर्क के माध्यम से भारत में प्रचारित और कार्यान्वित किया जा रहा है जो NM- ICPS (नेशनल मिशन ऑन इंटरडिसिप्लिनरी साइबर-फिजिकल सिस्टम्स) के तहत स्थापित ट्रिपल हेलिक्स के तौर पर काम कर रहे हैं.

No comments:

Post a Comment