मासिक करेंट अफेयर्स

17 May 2021

चीन की जनसंख्या बढ़कर 1.41178 अरब, जनसंख्या बढ़ोतरी की दर शून्य के करीब पहुंची

चीन ने 11 मई 2021 को जनगणना के सरकारी आंकड़े जारी किये हैं जिनसे पता चलता है कि बीते दशकों में चीन की आबादी सबसे धीमी गति से बढ़ी है. राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो के अनुसार, चीन की आबादी पिछले एक दशक में 72 मिलियन बढ़कर 1.411 बिलियन हो गई है. 
पिछले 10 सालों में चीन की आबादी में 5.38 प्रतिशत का इजाफा हुआ है और अब चीन की आबादी बढ़कर 141 करोड़ हो चुकी है. चीन की राष्ट्रीय जनगणना की रिपोर्ट के अनुसार चीन की आबादी में औसतन हर साल 0.53 प्रतिशत का ही इजाफा होता आया है.

सरकार ने बताया कि देश की आबादी में बढ़ोतरी की दर शून्य के करीब पहुंच गई है, क्योंकि यहां बच्चों को जन्म देने वाले दंपती की संख्या कम है. चीन में कार्यबल कम हो रहा है क्योंकि देश की आबादी में बुजुर्ग लोगों की संख्या काफी अधिक है. चीन के नेताओं ने जनसंख्या को बढ़ने से रोकने के लिए 1980 से जन्म संबंधी सीमाएं लागू की थीं, लेकिन अब उन्हें इस बात की चिंता है कि देश में कामकाजी आयु वर्ग के लोगों की संख्या तेजी से कम हो रही है और इसके कारण समृद्ध अर्थव्यवस्था बनाने के प्रयास बाधित हो रहे हैं.

साल 2011 में 925 मिलियन के शीर्ष पर पहुंचने वाली चीन की 15 से 59 वर्ष की कार्यशील आबादी तेजी से घट रही है. इससे मजदूरी तो बढ़ रही है, क्योंकि कंपनियां कर्मचारियों के लिए प्रतिस्पर्धा कर रही हैं, लेकिन इससे नए उद्योग स्थापित करने और आत्मनिर्भर अर्थव्यवस्था विकास तैयार करने में बाधा आ सकती है. रिपोर्ट के मुताबिक चीन में राष्ट्रीय जन्मदर में अभी भी कमी दर्ज की जा रही है. जबकि चीन में पिछले कुछ सालों से राष्ट्रीय जन्मदर बढ़ाने की काफी कोशिश की जा रही है, फिर भी सरकार को सफलता नहीं मिली है. साल 2017 से लगातार चीन के राष्ट्रीय जन्मदर में कमी दर्ज की गई है.

चीन में हर दस साल में एक बार जनसंख्या के आंकड़े जारी किये जाते हैं. साल 2020 के अंत में चीन में जनगणना हुई थी. चीन की सरकार के अनुसार, लगभग 70 लाख कर्मचारियों ने जनगणना के काम में हिस्सा लिया और उन्होंने घर-घर जाकर लोगों की गिनती की. चीन में जनगणना के काम को बहुत ही गंभीरता से लिया जाता है ताकि भविष्य की योजनाएं उसी हिसाब से बनायी जा सकें.

No comments:

Post a Comment