मासिक करेंट अफेयर्स

06 May 2021

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मॉडर्ना कोरोना वायरस वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग को मंजूरी दी

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 30 अप्रैल, 2021 को, मॉडर्ना कोरोना वायरस वैक्सीन को आपातकालीन उपयोग प्राधिकार प्रदान किया है. इस वैश्विक निकाय ने महामारी के खिलाफ लड़ाई में अपने शस्त्रागार में एक और शॉट जोड़ते हुए, आपातकालीन उपयोग के लिए इस वैक्सीन को मंजूर और सूचीबद्ध किया है. 
मॉर्डन वैक्सीन की खुराक एस्ट्राज़ेनेका-एसके बायो, जैन्सेन, फाइज़र-बायोएनटेक, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की खुराक सहित विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की आपातकालीन उपयोग टीकों की सूची में शामिल हो गई है. इसके साथ ही, WHO से आपातकालीन उपयोग प्राधिकार की मान्यता प्राप्त करने के लिए मॉडर्ना वैक्सीन (mRNA 1273) पांचवा टीका बन गया है. यह मॉडर्ना वैक्सीन अमेरिकी कंपनी मॉडर्ना, बायोमेडिकल एडवांस्ड रिसर्च एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी और यूएस नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इन्फेक्शियस डिजीजेस द्वारा विकसित की गई है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेषज्ञों ने 18 वर्ष से अधिक उम्र के रोगियों के लिए इस वैक्सीन का उपयोग करने की सिफारिश की है. WHO के अनुमान के अनुसार, यह दवा mRNA आधारित है और इसमें 94.1% तक प्रभावकारिता है. इस आधुनिक वैक्सीन को -25oC और -15oC के बीच के तापमान पर संग्रहीत/ स्टोर किया जा सकता है, लेकिन इस वैक्सीन को 30 दिनों तक 2 डिग्री सेल्सियस और 8 डिग्री सेल्सियस के बीच के तापमान पर भी संग्रहीत किया जा सकता है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन की आपातकालीन उपयोग सूची के अलावा, COVID-19 वैक्सीन मॉडर्ना के COVAX का एक हिस्सा बनने के लिए पूर्व शर्त थी. COVAX कम आय वाले देशों को कोरोना वायरस के लिए वैक्सीन की खुराकें वितरित करने का एक वैश्विक कार्यक्रम है. यह कार्यक्रम विभिन्न देशों को कोरोना वायरस वैक्सीन की व्यवस्था और आयात के लिए अपनी स्वयं की विनियामक स्वीकृति में तेजी लाने की अनुमति देता है.

मॉडर्ना वैक्सीन को दिसंबर, 2020 में संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा आपातकालीन उपयोग प्राधिकार दिया गया था. यूरोपीय संघ ने भी जनवरी, 2021 में अमेरिका के बाद शीघ्र ही इस वैक्सीन को अपनी मंजूरी दे दी थी. वैश्‍विक स्‍वास्‍थ्‍य निकाय द्वारा भी अब इस वैक्सीन को प्राधिकार दिया गया है क्‍योंकि चीन से फैलने के एक वर्ष के भीतर ही इस महामारी पर अंकुश लगाने के लिए वैश्‍विक समुदाय अपने COVID टीकाकरण को बढ़ाने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है. WHO से चीन के सिनोवैक और सिनोफ़ार्म वैक्सीन के लिए भी इसी तरह की मंजूरी आने वाले कुछ दिनों और हफ्तों में मिलने की उम्मीद है.

No comments:

Post a Comment