मासिक करेंट अफेयर्स

05 July 2021

माना पटेल टोक्यो ओलंपिक में क्वालीफाई करने वाली पहली भारतीय महिला तैराक बनीं

भारतीय महिला तैराक माना पटेल ने हाल ही में इतिहास रच दिया और ओलंपिक में क्वालीफाई करने वाली पहली खिलाड़ी बनीं. माना पटेल से पहले अब तक किसी भी भारतीय महिला तैराक ने ओलंपिक के लिए क्वालीफाई नहीं किया था. 
माना पटेल अब भारत की तरफ से टोक्यो ओलंपिक में पदक के लिए अपनी दावेदारी पेश करेंगी. भारतीय तैराकी महासंघ के अनुसार माना पटेल की विश्वविद्यालय कोटा से टोक्‍यो ओलंपिक में भागीदारी की पुष्टि हो गयी है.

माना टोक्‍यो खेलों में 100 मीटर बैकस्ट्रोक में भाग लेगी. वह इन खेलों के लिये क्वालीफाई करने वाली तीसरी भारतीय तैराक है. श्रीहरि नटराज और साजन प्रकाश ने हाल में ओलंपिक क्वालीफिकेशन टाइमिंग में 'ए' स्तर हासिल करके क्वालीफाई किया था. माना पटेल ने कहा कि बेलग्रेड में मैंने एक मिनट 03 सेकेंड का समय निकाला. मेरा लक्ष्य टोक्‍यो में एक मिनट 02 सेकेंड या इससे कम समय निकालना है. मैं ओलंपिक में केवल अनुभव हासिल करना चाहती हूं. राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में पदक जीतने का मेरे पास अच्छा मौका होगा.

इस साल उनकी पहली प्रतियोगिता अप्रैल में उज्बेकिस्तान ओपन तैराकी चैंपियनशिप थी, जिसमें उन्होंने 100 मीटर बैकस्ट्रोक में एक मिनट 04.47 सेकेंड का समय निकालकर गोल्ड मेडल जीता था. टोक्‍यो ओलंपिक की तैयारियों के लिये उन्होंने हाल में सर्बिया और इटली में प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया था. उन्होंने बेलग्रेड में 100 मीटर बैकस्ट्रोक में राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी बनाया था.

माना पटेल ने सात साल की उम्र से ही तैरना शुरू कर दिया था. जब वह 13 साल की थी, तब पटेल ने हैदराबाद में 40वीं जूनियर नेशनल एक्वेटिक्स चैंपियनशिप में 2: 23.41 सेकेंड में 200 मीटर बैकस्ट्रोक पूरा किया. 2015 में 60वें राष्ट्रीय स्कूल खेलों में, उसने 100 मीटर बैकस्ट्रोक में स्वर्ण पदक जीता और बैकस्ट्रोक में राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ा.

No comments:

Post a Comment