17 August 2021

अफगानिस्तान पर फिर तालिबान का कब्जा, अफगान राष्ट्रपति अशरफ गनी ने छोड़ा देश

तालिबान ने फिर अफगानिस्तान पर कब्जा जमा लिया है. तालिबान के आतंकियों ने काबुल की घेराबंदी कर ली और जब काबुल में घुसे अफगानिस्तान की फौज ने सरेंडर कर दिया. इसके बाद सरकार और तालिबान के प्रतिनिधियों के बीच बातचीत हुई और राष्ट्रपति अशरफ गनी देश छोड़कर चले गए. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी देश से ताजिकिस्तान के लिए रवाना हो गए हैं. 
राष्ट्रपति अशरफ गनी के साथ एनएसए हमदुल्लाह मोहिब समेत कई दूसरे नेताओं ने भी देश छोड़ दिया है. राष्ट्रपति अशरफ गनी के देश छोड़ने के कुछ ही घंटों बाद तालिबान ने काबुल में अफगान राष्ट्रपति भवन पर कब्जा कर लिया है. तालिबान ने यह भी कहा है कि अफगानिस्तान में सत्ता हस्तांतरण के लिए कोई भी अंतरिम सरकार नहीं बनाई जाएगी.

10 August 2021

प्रसिद्ध अभिनेता अनुपम श्याम का निधन

छोटे एवं बड़े पर्दे के मशहूर कलाकार अनुपम श्याम  का 08 अगस्त 2021 को निधन हो गया है. वे 63 साल के थे. उनके शरीर के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था. अनुपम श्याम ओझा पिछले साल से किडनी की बीमारी से जूझ रहे थे. अनुपम श्याम आईसीयू में थे और उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था. 
दिग्गज अभिनेता के निधन पर टेलीविजल इंडस्ट्री में शोक की लहर है. अनुपम श्याम के ठीक होने के बाद उनकी नियमित रूप से डायलिसिस करवाई जा रही थी. इस साल यानी 2021 में टीवी सीरियल 'मन की आवाज प्रतिज्ञा' के सीजन 2 लॉन्च होने पर वह काम पर वापस आ गए थे.

भारतीय रिजर्व बैंक ने मौद्रिक नीति समीक्षा की घोषणा की

भारतीय रिजर्व बैंक ने  द्विमासिक मौद्रिक नीति समीक्षा में प्रमुख नीतिगत दर रेपो में कोई बदलाव नहीं किया और इसे 4 प्रतिशत पर बरकरार रखा. वहीं केन्द्रीय बैंक ने चालू वित्त वर्ष के दौरान अर्थव्यवस्था में 7.5 प्रतिशत गिरावट आने का नया अनुमान व्यक्त किया है. इसके साथ ही केंद्रीय बैंक ने आर्थिक वृद्धि को गति देने के लिये उदार रुख को कायम रखते हुए कहा है कि कोविड-19 से प्रभावित अर्थव्यवस्था को गति देने के लिये वह आगे भी नीतिगत दर में कटौती समेत हर संभव कदम उठाएगा.

मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की निर्णय की जानकारी देते हुए आरबीआई के

04 August 2021

पीएम मोदी ने डिजिटल भुगतान समाधान e-RUPI को लॉन्च किया

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 02 अगस्त, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से डिजिटल भुगतान समाधान को बढ़ावा देने वाला एक इलेक्ट्रॉनिक वाउचर e-RUPI लॉन्च किया है. 
प्रधानमंत्री ने यह कहा कि, e-RUPI इस बात का उदाहरण है कि, कैसे भारत 21वीं सदी में उन्नत तकनीक की मदद से आगे बढ़ रहा है और लोगों को आपस में जोड़ रहा है. उन्होंने यह भी कहा कि, उन्हें खुशी है कि इसकी शुरुआत उस साल हुई है, जब भारत अपनी आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा है.

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे यह कहा कि, इस e-RUPI का उपयोग न केवल सरकार द्वारा बल्कि किसी भी ऐसे गैर-सरकारी संगठन द्वारा भी किया जा सकता है जो शिक्षा या चिकित्सा उपचार में किसी