मासिक करेंट अफेयर्स

13 November 2021

National Internet Exchange of India ने 'डिजिटल पेमेंट गेटवे' शुरू किया

नेशनल इंटरनेट एक्सचेंज ऑफ इंडिया ने हाल ही में 'डिजिटल पेमेंट गेटवे' को शुरू किया है. इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (एमईआईटीवाई) के तहत नेशनल इंटरनेट एक्सचेंज ऑफ इंडिया (एनआईएक्सआई) एक गैर-लाभकारी कंपनी है. पेमेंट गेटवे सेवाओं को शुरू करने के लिए नेशनल इंटरनेट एक्सचेंज ऑफ इंडिया ने पेयू और एनएसडीएल के साथ साझेदारी की है. 
इसका उद्देश्य सभी के लिए इंटरनेट को सुलभ बनाना है. अपने ग्राहकों और साझेदारों की सुविधा के लिए, उपयोग करने में आसानी के उद्देश्य से अपनी सभी ग्राहक उपयोग वाली वेबसाइटों पर पेमेंट गेटवे को एकीकृत कर अपनी तीन व्यावसायिक इकाइयों में डिजिटल भुगतान को सक्षम करके नेशनल इंटरनेट एक्सचेंज ऑफ इंडिया (एनआईएक्सआई) अब डिजिटल हो गया है.

इस एकीकरण के जरिए नेशनल इंटरनेट एक्सचेंज ऑफ इंडिया के ग्राहकों को रीयल-टाइम पेमेंट, सभी हितधारकों को बाधारहित सेवाएं अनुभव की सुनिश्चितता प्रदान करने से इसके उपयोग में आसानी होगी. एनआईएक्सआई इंटरनेट अवसंरचना को आत्मनिर्भर, मजबूत और सुरक्षित बनाने में सहायता करके डिजिटल इंडिया मिशन में अपना योगदान देता रहा है. हमारे अपने पेमेंट गेटवे की यह पहल एनआईएक्सआई के अपने इकोसिस्टम में अधिक डिजिटल आजादी और पारदर्शिता सुनिश्चित करेगी.

इस अवसर पर पेयू इंडिया के सीईओ अनिर्बान मुखर्जी ने कहा कि पेयू, एनआईएक्सआई के तीन प्रमुख डोमेन में महत्वपूर्ण पहलों के लिए भुगतान डिजिटलीकरण को सक्षम कर रहा है. इसने ग्राहकों और विक्रेताओं, दोनों से डिजिटल भुगतान की मंजूरी के लिए एक अनुकूलित रास्ता तैयार किया है और एनआईएक्सआई के लिए रिटर्न और सुलह को बहुत ही सहज बना दिया है. यह साझेदारी पेयू की तकनीकी विशेषज्ञता और डिजिटल इंडिया पहल के लिए पसंदीदा भागीदार बनने के लिए तैयार होने का सबूत है. नेशनल इंटरनेट एक्सचेंज ऑफ इंडिया (एनआईएक्सआई) एक गैर-लाभकारी संगठन है.

पेयू: पेयू भारत की एक अग्रणी पेमेंट गेटवे कंपनी है. यह ऑनलाइन व्यवसायों को पेमेंट गेटवे की सुविधा प्रदान करती है. यह 100 से अधिक भुगतान की विधियों के साथ 4.5 लाख से अधिक व्यापारियों को अपनी सेवाएं प्रदान कर रही है.

एनएसडीएल: एनएसडीएल विश्व की सबसे बड़ी डिपॉजिटरी में से एक है. इसने एक अत्याधुनिक बुनियादी ढांचा स्थापित किया है, जो भारतीय पूंजी बाजार में डीमैटरियलाइज्ड (अभौतिक) रूप में रखी और तय की गई अधिकांश प्रतिभूतियों को संभालती है. इसके अतिरिक्त यह व्यवसायों को सुरक्षित और निर्बाध पेमेंट गेटवे की सेवाएं भी प्रदान करती है.

No comments:

Post a Comment